Skip to main content

Posts

Showing posts from November, 2022

कानूनी मामलों में चिकित्सा साक्ष्य की क्या भूमिका होती है?What role does medical evidence play in legal cases?

आयकर अधिनियम , 1961 की धारा 17 में ' वेतन ' शब्द को किस प्रकार परिभाषित किया गया है । ' वेतन शीर्षक से आय की गणना में कटौतियों , यदि कोई हो , का वर्णन कीजिए । [ How the term ' salary has been defined is Section 17 of the income tax Act , 1961? Discuss the deduction , if any , allowed under its head , ' salaries ' . ] अथवा आयकर अधिनियम 1961 की धारा 16 में वर्णित वेतन शीर्षक की कटौतियों को विस्तार से समझाइए । [ Explain in detail deduction under the head of salaries approved under section 16 of income Tax Act , 1961. ] '

 वेतन ' शब्द की परिभाषा  ( Definition of Word ' Salary ' )    अक्सर नौकरियों में नियुक्ति का आधार मूल वेतन ही होता है । जब कर्मचारी को वेतन , वेतनमान के अन्तर्गत प्राप्त होता है तो यह मूल वेतन या प्रारम्भिक वेतन कहलाता है । प्रारम्भिक वेतन में प्रति वर्ष होने वाली वृद्धि को जोड़कर आने वाली रकम सम्बन्धित गत वर्ष का मूल वेतन होता है । मूल वेतन , वेतन का वह भाग होता है जिसमें किसी प्रकार का भत्ता ( Allowance ) आदि शामिल न हो ।  आयकर अधिनियम की धारा 17 ( 1 ) के अनुसार , वेतन शब्द में निम्नलिखित प्राप्तियाँ शामिल की जाती हैं - 1. मूल वेतन या मजदूरी  2. बोनस  3. कमीशन , फीस तथा अन्तरिम राहत  4. अधिसमय भुगतान  5. वार्षिकी  6. अग्रिम एवं अवशिष्ट वेतन  7. कर्मचारी के प्रमाणित प्रॉवीडेण्ट फण्ड में वार्षिक वृद्धि  8. हस्तान्तरित शेर का करयोग्य अंश  9. धारा 80 CCD के अन्तर्गत केन्द्रीय सरकार द्वारा गतवर्ष में अनुसूचित पेंशन योजना के अन्तर्गत कर्मचारी के खाते में दिया गया अंशदान  10. कर्मचारी द्वारा न की गई छुट्टियों के बदले में प्राप्त राशि  11. अनुग्रह राशि ( प्रेच्युटी ) 12. पेंशन  1

कृषि आय के आवश्यक तत्व बताते हुए इसके भेद भी बताइए । ( Give the essential elements of Agriculture Income also give its kinds . ]

कृषि आय के आवश्यक तत्त्व    ( Essential Elements of Agriculture Income )  कृषि आय के आवश्यक तत्व इस प्रकार है -  ( 1 ) कृषि आय भूमि से सम्बन्धित हो - यहाँ आय से तात्पर्य भूमि से प्राप्त किराये या आगम से है । किराये से तात्पर्य भूमि के स्वामी को भूमि के प्रयोग के प्रतिफल में मिली आय से ' आगम ' से तात्पर्य भूमि से उत्पन्न उपज या आय से है । यह उपज में प्राप्त उपज का भाग हो सकता है अथवा नकद में भी प्राप्त हो सकता है । किन्तु कृषि आय प्रत्यक्ष एवं मुख्य रूप से भूमि के कारण उत्पन्न होनी चाहिए । यदि कोई आय अप्रत्यक्ष रूप से भूमि से सम्बन्धित है , तो वह कृषि आय नहीं होगी । उदाहरणार्थ - एक कम्पनी द्वारा अपनी कृषि आय में से अंशधारियों को दिया गया लाभांश । यह लाभांश अंशधारण के कारण मिला है , भूमि से इसका प्रत्यक्ष नहीं परोक्ष सम्बन्ध है , अतः यह कृषि आय नहीं है । इसी प्रकार , बकाया किराये पर प्राप्त ब्याज भी कृषि आय नहीं है । फार्म मैनेजर का प्राप्त पारिश्रमिक यद्यपि भूमि से सम्बन्धित है , किन्तु प्रत्यक्ष रूप से नहीं , अतः यह भी कृषि आय नहीं है । यह भी स्मरण रहे कि कृषि आय के लिए भू - स्

आय के प्रमुख सिद्धांत क्या है ? [ What are the main Principles of Income ? ]

  आय के प्रमुख सिद्धांत ( Main Principles of Income )         आय के निम्नलिखित कुछ महत्त्वपूर्ण सिद्धान्त हैं , जिनके आधार पर यह ज्ञात किया जा सकता है कि विशिष्ट प्राप्ति आय है अथवा नहीं  ( 1 ) आय बाहर से प्राप्त होनी चाहिये - एक क्लब के सदस्य आपस में चन्दा एकत्रित करके क्लब चलाते हैं । चन्दे में एकत्रित धनराशि में से क्लब के व्यय घटाने के बाद बचा हुआ आधिक्य कर योग्य आय नहीं मानी जा सकती , क्योंकि यह कहीं बाहर से प्राप्त नहीं हुई है , किन्तु बाहरी व्यक्तियों से , जो क्लब के सदस्य नहीं हैं , प्राप्त चन्दा या शुल्क या क्लब की पूँजी सम्पत्तियों के उपयोग से प्राप्ति , आय मानी जायेगी , [ CIT Vs. Merchant Navy Club ( 1974 ) 96 ITR 261 ( AP ) ] ।  ( 2 ) आय की वैधानिकता- आय कर वैधानिक एवं अवैधानिक दोनों प्रकार की आय पर लगता है । इस प्रकार , काला बाजारी या तस्करी से होने वाली प्राप्ति , आय मानी जायेगी , [ CIT Vs. Piara Singh ( 1980 ) 3 Taxman 67 , ( SC ) ]  ( 3 ) मौद्रिक एवं अमौद्रिक आय - आय चाहे मुद्रा में प्राप्त हो या सेवा के रूप में , दोनों ही कर योग्य होती हैं । वस्तु या सेवा के रूप में

आय क्या है ? आयकर का निर्धारण गतवर्ष की आय पर अगले निर्धारण वर्ष में होता है । इस नियम के अपवादों का वर्णन कीजिए । ( What is Income ? Income tax is assessed on the income of previous year in the next . State the exception to this rule . ]

आय से तात्पर्य  ( Meaning of Income )     ' आय ' आयकर अधिनियम की विषय सामग्री है , क्योंकि इस अधिनियम के अन्तर्गत कर वापसी , अर्थ - दण्ड एवं अन्य कोई भी कार्यवाही आय के सम्बन्ध में ही है , अत : आय का सही अर्थ जान लेना परमावश्यक है । आयकर अधिनियम में आय की कोई परिभाषा तो नहीं दी  गई है ,   किन्तु यह अवश्य लिखा है कि  आय ' में क्या - क्या सम्मिलित होता है । धारा 2 ( 24 ) 'अनुसार , ' आय ' में निम्न शामिल है -  ( 1 ) लाभ एवं प्राप्तियाँ ,  ( 2 ) लाभांश ,  ( 3 ) स्वच्छापूर्वक प्राप्त चन्दे , जो किस ऐसे ट्रस्ट या संस्था को , जो पूर्णत : या आंशिक पुण्यार्थ या धार्मिक उद्देश्यों के लिए निर्मित या इन्हीं उद्देश्यों के लिए स्थापित हैं , या किसी अनुमोदित वैज्ञानिक अनुसन्धान संघ को , अथवा भारत में हॉकी , क्रिकेट , फुटबॉल , टैनिस आदि खेलों के प्रोत्साहन के लिए स्थापित किसी संघ या संस्था को , अथवा किसी कोष , संस्था या ट्रस्ट को , जिन्हें धार्मिक एवं पुण्यार्थ उद्देश्य के लिए सरकारी गजट में प्रकाशित कर दिया गया है , या किसी विश्वविद्यालय या अन्य शिक्षा संस्था ( धारा 23C ( vi )

कृषि आय को परिभाषित कीजिए । कृषि आय के साथ गैर - कृषि आय को आंशिक रूप में जोड़ने की योजना क्या है ? समझाइए । ( Define agriculture income . What is the scheme of partial integration of non - agriculture income.)

कृषि आय ( Agriculture Income ) आयकर अधिनियम की धारा 10 ( i ) के अनुसार , “ कृषि आय आयकर से मुक्त है । " भारतीय संविधान ने ' संसद ' को कृषि आय पर आयकर लगाने के लिए अभी तक अधिकृत नहीं किया है । " जब किसी भूमि पर खेती की क्रियाएँ की जाती हैं , जैसे - भूमि जोतना , भूमि में पानी देना ; भूमि में खाद डालना , भूमि में बीज बोना , भूमि की निराई - गुड़ाई करना , पौधों के आसपास की घास - फूंस को हटाना , फसल काटना , फसल निकालना इत्यादि एवं इस फसल को बेचकर कोई आय प्राप्त की जाती है तो यह कृषि आय कहलाती है , परंतु यह भूमि भारत में होनी चाहिए । " आयकर अधिनियम की धारा 2 ( 1 - A ) के अनुसार , " कृषि आय " से तात्पर्य है - Agriculture Income  As per section 10(i) of the Income Tax Act, “Agricultural income is exempt from income tax.  "The Constitution of India has not yet authorized the 'Parliament' to impose income tax on agricultural income." When agricultural activities are done on a land, such as plowing the land, watering the land;  Fertilizing the lan